इस तरह रखे अपने मन में मदद की भावना।

मदद की भावना कैसे रखे।

Image : Pixabay
हमारे अन्दर मदद की भावना हमेसा रखनी चाहिए। हमें सिर्फ अपने लिए ही नहीं दुसरो के लिए भी जीना चाहिए। और दुसरो को मदद करते ही रहना चाहिए। अगर हम ये सोचे, की हमें दुसरो को मदद क्यू करनी चाहिए?. क्यूँकी जब हम कोई मुसीबत में होंगे तो वो हमे मदद करेंगे। पर हमने कभीभी किसीको कोई मदद नहीं की होगी तो हमें बहुत कम लोग ही मदद करेंगे। पर हमभी सभी को मदद करने की आदत बना लेंगे और सभी को मदद करते रहेंगे तो हमें भी बहुत लोग मदद करेंगे। मदद करने वाला व्यक्ति मदद लेने वाला हमेशा दिल से याद करता है। हम लोगों ने इंग्लिश का एक वाक्य तो सुना ही है "Happy To Help" मतलब ये की, "हमें मदद करने से बहुत ख़ुशी होती है।" जब हम किसीको मदद करते है तो हमें सच में बहुत खुसी होती है।
  • मदद करने के लिए धन केवल धन की जरुरत नहीं होती, उसके लिए अच्छे मन की जरुरत होती है।
  • वो हाथ किस काम के जो प्रार्थना के लिए भगवन की और उठाए जाते है, और किसीकी मदद के समय बगल में छिपाए जाते है।
  • किसीको भी सच्ची और सही मदद करनी चाहिए, अपने फायदे के लिए झूठी मदद नहीं। चिकनी चुपड़ी बातों से फितरत का पता नहीं चलता, अंदर क्या है, बाहर क्या है, पता नहीं चलता। जो मीठेपन का लेप चढ़कर, प्यारी बातें करते है। वो कटुता का कब रंग दिखा दें, पता नहीं चलता।
  • किसी जरूरतमंद की मदद करने से, दुनिया की सच्ची ख़ुशी का अनुभव होता है।
  • किसकी मदद करते वक्त उसके चेहरे की और मत देखो, हो सकता है उसकी झुकी हुई आँखे आपके दिल में गुरुर पैदा करदे।
  • दुनिया में सबसे ताकतवर वो होता है, जो धोखा खाने के बाद भी मदद करना नहीं छोड़ता।
मदद करने वाला हमेशा खुश रेहता है।

ये भी पढ़े :